बच्चों को स्कूल छोड़ने के बारे में

Posted on: 12/18/2019 6:32:20 PM

प्रिय अभिभावक स्कूल प्रशासन पिछले कई सालों से आपसे अनुरोध करता रहा है कि आप बच्चों को स्कूल के समय अनुसार ही स्कूल भेजें। कुछ अभिभावक अपनी सुविधानुसार बच्चों को जल्दी स्कूल छोड़ जाते हैं। अगर आप पिछले मैसेजेस को चेक करेंगे तो आपको मिलेगा कि हम आपसे बार-बार इस बारे में चेतावनी देते रहे हैं। हाल ही में पंजाब के स्कूल में हुई दुर्घटना ने आपको भी यह जताया होगा कि हम इस बारे में शुरू से ही सावधानी बरत रहे हैं। आपसे अनुरोध है कि आप अपने बच्चों की सुविधा के लिए हमारा सहयोग करें और जो भी नियम बनाए जाते हैं उनका पालन करें। नीचे दिया गया मैसेज हमने आपको इससे पहले कई बार स्कूल एप और व्हाट्सएप के द्वारा भेजा है। कृपया इसे दोबारा से पढ़ें:- जैसा कि आप सब जानते हैं स्कूल सुबह 8:45 पर शुरू होता है। स्कूल में पहली बस लगभग 8:30 बजे के बाद आती है और उसी समय ही अध्यापकों का आना भी शुरू होता है। गांव कालीरावन के सभी अभिभावकों से अनुरोध है कि आप अपने बच्चों को 8:30 बजे के बाद और 8:45 से पहले छोड़कर जाए। कुछ बच्चे 8:30 बजे से काफी पहले स्कूल आ जाते हैं। लेकिन उस समय स्कूल में उनकी देखभाल करने वाला कोई भी नहीं होता है। क्योंकि स्कूल एक को एजुकेशनल स्कूल है, इसलिए आप सबसे अनुरोध है कि आप को बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए और किसी भी अनहोनी से बचने के लिए समय से पहले स्कूल में बच्चों को ना छोड़े और ना ही भेजें। अभिभावक अपनी व्यक्तिगत सुविधा को देखते हुए बच्चों को समय से पहले या समय के बाद छोड़ते हैं। लेकिन अगर बच्चा स्कूल में समय से पहले आता है और कोई दुर्घटना घटती है तो उसकी जिम्मेदारी किसकी होगी , इस प्रश्न का उत्तर आप स्वयं देने की कोशिश कीजिए।